Sunday, December 15, 2019

बिना प्रूफ और डॉक्यूमेंट के भी बन सकता है Aadhaar, जानिए कैसे | UIDAI के नए नियम जारी


Aadhar : आधार 12 अंकों का एक विशेष नंबर है, भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) जारी करता है. सभी के लिए ये नंबर अलग होता है. भारत में कोई पहचान पत्र बनवाने, अकाउंट खुलवाने या किसी अन्य योजना में शामिल होने के लिए हमें आईडी प्रूफ की जरूरत होती है. आधार को बनवाते वक्त भी आपका आईडी प्रूफ दिखाना होता है. लेकिन, अब बिना किसी डॉक्यूमेंट (डीएल, राशन कार्ड, पासपोर्ट या वोटर आईडी कार्ड) के भी आधार कार्ड आसानी से बनवाया जा सकता है. लोगों की दिक्कतों को देखते हुए इस स्टैंडर्ड सर्टिफिकेट को लाने का फैसला किया गया है. इसका नाम 'सर्टिफिकेट फॉर आधार एनरोलमेंट/अपडेट' है. सर्टिफिकेट जारी होने की तारीख से यह केवल तीन महीने के लिए मान्य है. कोई व्यक्ति तीन तरीकों से आधार के लिए आवेदन कर सकता है. दस्तावेजों के जरिये, परिवार के मुखिया के माध्यम से और इंट्रोड्यूसर के जरिये. दस्तावेज नहीं होने पर व्यक्ति को पहचान, पते और जन्म का प्रमाण एक सर्टिफिकेट में देना पड़ता है. यह सर्टिफिकेट पदाधिकारी जारी करते हैं. हालांकि, स्टैंडर्ड फॉर्मेट के अभाव में लोग समस्याओं का सामना कर रहे हैं. उन्हें नहीं पता होता कि आवश्यक सर्टिफिकेट में क्या डिटेल दी जाए.


अगर नहीं है कोई प्रूफ तो क्या करें -

अगर आपके पास कोई डॉक्यूमेंट या प्रूफ नहीं है तो ऐसी स्थिति में आपके परिवार को कोई सदस्य मदद कर सकता है. हालांकि, इसके लिए जरूरी है कि परिवार के मुखिया का आधार कार्ड बना हुआ हो. मुखिया के आधार पर परिवार के अन्य सदस्या का आधार बन सकता है. UIDAI आपके परिवार के मुखिया से रिलेशनशिप का दस्‍तावेज मांग सकता है. आप आधार केंद्र पर मौजूद इंट्रोड्यूसर की मदद ले सकते हैं. रजिस्‍ट्रार इन इंट्रोड्यूसर को नोटिफाई करता है. उसका आधार नंबर वैध होता है. अगर यह भी संभव नहीं है, तब भी आधार बनने में कोई दिक्कत नहीं होगी. 


स्टैंडर्ड  सर्टिफिकेट से बन सकता है आधार जानिए कैसे -

पर्याप्त दस्तावेज न होने के कारण जो लोग आधार कार्ड (Aadhaar Card ) नहीं बनवा पाते ये खबर उनके लिए है. भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने एक स्टैंडर्ड सर्टिफिकेट जारी किया है आधार कार्ड (Aadhaar Card) एक महत्वपूर्ण फाइनेंशियल डॉक्यूमेंट है. फिर चाहे ये आपको पैन कार्ड (PAN Card) बनवाने के लिए चाहिए हो या सरकारी सब्सिडी का फायदा पाना हो. हर चीज के लिए आधार कार्ड देना अनिवार्य होता है. पर्याप्त दस्तावेज न होने के कारण जो लोग आधार कार्ड नहीं बनवा पाते ये खबर उनके लिए है. भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने एक स्टैंडर्ड सर्टिफिकेट जारी किया है. इन सर्टिफिकेट में स्टैंडर्ड फॉर्मेट में आवेदक को जानकारी देनी होगी.


यहां से मिल सकता है सर्टिफिकेट -

एक सर्कुलर के अनुसार विभिन्न पदाधिकारियों से सर्टिफिकेट पाने के लिए कोई स्टैंडर्ड फॉर्मेट नहीं था. जिन लोगों के पास पर्याप्त दस्तावेज नहीं हैं, उन्हें इसके चलते समस्याएं हो रही थीं. इसे देखते हुए सर्टिफिकेट का स्टैंडर्ड फॉर्मेट बनाया गया है. इन्हें सांसद, विधायक या गजेटेड ऑफिसर या तहसीलदार या शिक्षण संस्थान के प्रमुख या पार्षद या प्रधान से लिया जा सकता है.


अगर खो गया है आधार तो क्या करें? -

अगर आपका आधार कार्ड खो जाता है तो इसे दोबारा बनवा भी कोई मुश्किल काम नहीं है. दरअसल, UIDAI ने mAadhaar मोबाइल ऐप लॉन्च किया है. इस ऐप को अपने मोबाइल फोन में डाउनलोड करें. इसके बाद आपका आधार आपके मोबाइल में होगा. हालांकि, mAadhaar ऐप को यूज करने के लिए रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होना जरूरी है.

नया नंबर अपडेट कराएं -

अगर आपके पास रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर नहीं है तो आपको आधार सेंटर जाकर नया नंबर अपडेट करवाना होगा. इस ऐप में QR कोर्ड और ई-KYC का भी फीचर दिया गया है. किसी भी जगह इसका इस्तेमाल आधार कार्ड की तरह किया जा सकता है.


ऐसे डाउनलोड करें M Aadhaar -

  • Google प्ले स्टोर पर जाएं.
  • ऐप डाउनलोड कर लें.
  • ऐप को पासवर्ड से सुरक्षित कर लें.
  • ऐप खोलने पर आधार नंबर डालना होगा और अन्य जानकारियां भरनी होंगी.
  • रजिस्टर्ड नंबर पर ओटीपी आएगा.
  • ओटीपी डालने के बाद यह ऐप पूरी तरह वेरीफाई हो जाएगा. 
  • आप बायोमीट्रिक डेटा लॉक और अनलॉक कर पाएंगे.


तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट बिना किसी प्रूफ और डॉक्यूमेंट के भी बन सकता है . यदि आप AADHAR से संबंधित कुछ अन्‍य जानकारी चाहते हैं, तो आप हमसें कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।। धन्यवाद ।।

No comments:

Post a Comment

please do not any spam link in the comment box.