Wednesday, November 13, 2019

सुमन योजना | मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, गर्भवती महिलाओं का सारा खर्च उठाएगी सरकार




दोस्तों विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ो के मुताबिक भारत में आज के समय में भी बहुत सी ऐसी महिलाएं हैं जो कि पैसों की कमी के कारण प्रेग्नेंसी के दौरान प्रसव घर पर ही करवाती हैं| यह तरीका आम तौर पर अस्पतालों से ज्यादा सस्ता तो होता है लेकिन इस दौरान जच्चा बच्चा को बहुत ज्यादा खतरा भी होता है| इसी समस्या से उबरने के लिए मोदी सरकार द्वारा यह योजना बनाई गई है|

सुमन योजना क्या है?

सुमन का पूरा नाम है सुरक्षित मातृत्व आश्वाशन योजना | इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा की जायेगी |  इस योजना का लक्ष्य है है की हर गर्भवती महिला को सुरक्षित मातृत्व की गारंटी मिले । सरकार द्वारा महिलाओं को प्रसव के पहले और बाद सहायता दी जाएगी । इसमें मुफ्त एम्बुलेंस , प्रसव के दौरान सारा खर्च और ६ महीनों तक बच्चे और माँ की दवाइयां मुफ्त में मुहैया करवाई जाएंगी । इसके अलावा अगर नवजात बच्चे की किसी भी तरह की बीमारी की स्तिथि में भी सरकार ही खर्च उठाएगी |

योजना का उद्देश्य
  • प्रसव का सारा खर्च सरकार द्वारा उठाया जाएगा| प्रसव नॉर्मल होता है या ऑपरेशन के द्वारा इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता, सरकार प्रसव का सारे खर्चे का भुगतान करेगी| 
  • प्रसव के पहले बहुत सारे टेस्ट कराने जरूरी होते हैं जो कि अक्सर आर्थिक रूप से अक्षम महिलाएं नहीं करवाती हैं इसलिए अगर प्रसव के पहले कोई टेस्ट करवाना हो तो वह भी सरकार ही करवाएगी| 
  • सरकार केवल प्रसव तक का ही नहीं बल्कि उसके आगे तक की जिम्मेदारी ले रही है| प्रसव के छह महीने बाद तक सरकार बच्चे और माँ, दोनों के लिए दवाईयों का इंतजाम करेगी| 
  • यदि गर्भवती महिला को किसी तरह की परेशानी है और प्रसव से पहले किसी उपचार की जरूरत है तो यह भी सरकार मुहैया कराएगी और उसके इलाज का पूरा भुगतान करेगी| 

1 comment:

please do not any spam link in the comment box.